National Science Day 2021: जाने इस दिन का इतिहास, महत्व, और विषय

National Science Day 2021: भारतीय वैज्ञानिक CV Raman द्वारा रमन प्रभाव (Raman Effect) की खोज के उपलक्ष्य में हर साल  28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है ।

CV Raman को  1930 में रमन प्रभाव (Raman Effect) के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

national science day 2021 history and importance
 National Science Day 2021


राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का इतिहास (History Of National Science Day)

वर्ष 1986 में नेशनल काउंसिल फॉर साइंस एंड टेक्नोलॉजी कम्युनिकेशन (NCSTC) ने भारत सरकार से 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में नामित करने को कहा था।

जिसके लिए सरकार ने इस दिन को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के रूप में स्वीकार किया और घोषित किया।सबसे  पहला राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 28 फरवरी 1987 को मनाया गया था।

अब यह पूरे भारत के स्कूलों, विश्वविद्यालयों, कॉलेजों, और अनुसंधान संस्थानों में हर साल  28 फरवरी को लोगो के जीवन में विज्ञान के महत्व को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है । 

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का महत्व (Importance of National Science Day)


हमारे  दैनिक जीवन में विज्ञान के महत्व पर जागरूकता बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय विज्ञान को दिवस मनाया जाता है। और मानव कल्याण के लिए विज्ञान के क्षेत्र में सभी गतिविधियों, प्रयासों और उपलब्धियों को प्रदर्शित करने के लिए भी इस दिन को मनाया जाता है ।


 इस दिन देश भर के कॉलेज और संस्थान में सार्वजनिक भाषण, रेडियो, टीवी, विज्ञान फिल्में, विषयों और अवधारणाओं पर विज्ञान प्रदर्शनियों, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताओं,वाद-विवाद, व्याख्यान, विज्ञान मॉडल प्रदर्शनियों और कई गतिविधियों का आयोजन करके लोगों के जीवन में विज्ञान के महत्व के संदेश को पहुंचाने के रूप में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस को  मनाया जाता है। 

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2021 का विषय 

 राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2021 का मुख्य विषय "STI का भविष्य (Impact on Education, Skills and Work)  शिक्षा, कौशल और कार्य पर प्रभाव" है। इस वर्ष का विषय इसमें शामिल वैज्ञानिक मुद्दों की सार्वजनिक सराहना बढ़ाने और विज्ञान के प्रभावों को शिक्षा, कौशल और कार्य पर जुटाने के उद्देश्य से चुना गया है ।

Tags : #Nationalscienceday2021 #vigyandivas2021

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ